26 C
Bhopal
Saturday, May 8, 2021
No menu items!
Home WORLD कोरोना के रोकथाम में कारगार साबित हो सकता है रीमेडिविर

कोरोना के रोकथाम में कारगार साबित हो सकता है रीमेडिविर

नईदिल्ली: कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते संक्रमण के बीच कई दवाओं क्लीनिकल ट्रायल के दौर में हैं। इनमें से रीमेडिविर दवा, जिसका पांच साल पहले इबोला वायरस के इलाज में ट्रायल किया गया था, प्रमुख दवा के रूप में सामने आ सकती है। इसके क्लीनिकल ट्रायल में कोरोना मरीजों के ठीक होने में तेजी देखी गई है। 
अमेरिका के एक स्वतंत्र आर्थित थिंक टैंक मिल्केन इंस्टीट्यूट के अनुसार, कोविड-19 को लेकर 130 से ज्यादा दवाओं पर प्रयोग किए जा रहे हैं। इनमें से कुछ दवाएं कोरोना को प्रभावी तरीके से रोकने में सक्षम हो सकती हैं जबकि बाकी अन्य अंगों को नुकसान पहुंचाने वाली अति सक्रिय प्रतिक्रियाओं को शांत करने में मदद कर सकती हैं। 
वहीं, जम्मू स्थित सीएसआईआर के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटीग्रेटेड मेडिसिन के निदेशक राम विश्वकर्मा ने कहा, ‘अभी केवल एक तरीका है जो अन्य बीमारियों में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के पुनर्उपयोग के लिए है, इसका एक उदाहरण रीमेडिविर दवा है।’
उन्होंने कहा, यह एंटीवायरल रीमेडिविर दवा लोगों को कोरोना से तेजी से ठीक होने में मदद कर रही है और गंभीर स्थिति वाले मरीजों की मृत्यु दर भी कम रही है। उन्होंने कहा कि यह दवा इस समय जीवन बचाने वाली दवा साबित हो सकती है। 

Most Popular

जनजातीय भारत आदि महोत्सव में रीना ढाका और रुमा देवी के...

0
दिल्ली: दिल्ली हाट में आयोजित आदि महोत्सव में देश की समृद्धि जनजातीय संस्कृति की झलक लेने के लिए बड़ी संख्या में लोग...

कोविड-19 टीकाकरण और आत्मनिर्भर भारत पर राज्य व्यापी जागरूकता अभियान का...

0
पुणे: केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने आज पुणे में कोविड-19 टीकाकरण और आत्मनिर्भर भारत पर मोबाइल जागरूकता अभियान...

महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग में मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन

0
महाराष्ट्र: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग में एक मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया। इस अवसर पर श्री अमित...