26 C
Bhopal
Saturday, May 8, 2021
No menu items!
Home MOVIES AND FASHION इरफान खान की अब यादें ही शेष,कठिन रहा सपनों की दुनिया तक...

इरफान खान की अब यादें ही शेष,कठिन रहा सपनों की दुनिया तक पंहुचने का सफर।

इरफान खान की मौत से उनके फैंस गम में डूबे हुए हैं बतौर इंसान भी वे काफी जिंदादिल थे इरफान खान का एक्टर बनने तक का सफर बहुत कठिन रहा कहा जाता है कि सन् 1993 में उनके पास पिक्चर देखने तक के पैसे नही हुआ करते थे। Irfan Khan मूलत जयपुर के पास टोंक जिले के रहने वाले थे। उनके पिता याकूब खान जयपुर के सुभाष चौक में टायरों का काम करते थे। उनका टायर रिट्रीडिंग का काम था। यहीं सईदा मंजिल में उनका मकान हुआ करता था। जयपुर के सैंट पॉल्स स्कूल में पढते थे। बाद में यही के राजस्थान कॉलेज से आगे की पढाई की, लेकिन पढाई से ज्यादा थिएटर में मन लगता था तो जयपुर का रवीन्द्र रंगमंच उनकी पहली मंजिल बना।

शुरूआती दौर में उनके साथ थिएटर करने वाले जयपुर के रंगकर्मी रियाज हसन बताते हैं कि मेरा मकान और उनकी दुकान आमने सामने ही थे। एक दिन यूं ही मिल गए थे और बोले कि थिएटर करना है, तो हमने साथ शुरूआत कर दी। तीन चार प्ले किए। इस बीच पिता का इंतकाल हो गया तो परिवार की चिंता में टायर रिट्रीडिंग का काम सम्भाल लिया। लेकिन मन नहीं लगा। बाद में भाइयों को काम सौंप कर वो अपनी मंजिल नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा की ओर बढ़ लिए। जयपुर के पुराने पत्रकार इकबाल खान बताते हैं कि उन्होंने मन्नू भंडारी की के उपन्यास पर आधारित महाभोज नाम से एक नाटक किया था। इसमें उन्हें जो रोल मिला था, उसमें कोई संवाद नहीं था, लेकिन अपनी आंखों से ही उन्होंने ऐसा काम किया कि पूरे हॉल में तालियों से गूंज उठा।

तीन दिन पहले इरफान की मां सईदा बेगम का भी इंतेकाल हुआ है। उनके दो भाई सलमान और इमरान अपने परिवारों के साथ यहीं रहते है। पारिवारिक कार्यक्रमों में इरफान आते जाते रहते थे, लेकिन पिछले एक-डेढ साल में बीमारी के कारण वो नहीं आ पाए। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और चिकित्सा मंत्री रधु शर्मा ने इरफान के निधन पर शोक व्यक्त किया है और कहा है कि वे नए कलाकारों के लिए हमेशा प्रेरणा बने रहेंगे।

Most Popular

जनजातीय भारत आदि महोत्सव में रीना ढाका और रुमा देवी के...

0
दिल्ली: दिल्ली हाट में आयोजित आदि महोत्सव में देश की समृद्धि जनजातीय संस्कृति की झलक लेने के लिए बड़ी संख्या में लोग...

कोविड-19 टीकाकरण और आत्मनिर्भर भारत पर राज्य व्यापी जागरूकता अभियान का...

0
पुणे: केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने आज पुणे में कोविड-19 टीकाकरण और आत्मनिर्भर भारत पर मोबाइल जागरूकता अभियान...

महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग में मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन

0
महाराष्ट्र: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग में एक मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया। इस अवसर पर श्री अमित...